रविवार, 28 फ़रवरी 2010

मुँह में भांग की गोली है.. भीगी हर इक चोली है..(बुरा ना मानो होली है.. पोल तुम्हारी खोली है पार्ट-२)---->>>दीपक 'मशाल'

दोस्तों घबराइए नहीं मैं वापस आ गया हूँ और कल जो वादा कर के गया था वो भी मुझे बहुत अच्छी तरह से याद है... आपको क्या लगता है??? आप सबकी इज्ज़त के चीथड़े उधेड़े तो बाकी लोगों के छोड़ दूंगा.. नहीं साहब बिलकुल नहीं.. देखिये अब बाकी लोगों की बारी है तो.....   दिल थाम के पढ़ियेगा और अपनी बोली लगने का इंतज़ार कीजिएगा.. और हाँ आज बेलफास्ट की पिछले साल की होली की दो तस्वीरें हैं उन्हें देख के विदेशी होली का भी अंदाज़ा लगाइए..


गंजा कानून उर्फ़ दिनेशराय द्विवेदी जी--
ब्लॉगवुड हर कदम इक नई जंग है...
हार जाओगे तुम.. ये केस बड़ा झंड है...

'हँस कहे कौआ मों को.. चों रे चम्पू' समझे के नाहीं ई हैं तिरंगे के बीच वाले चक्के के चोर हमरे प्रिय कवि अशोक चक्रधर जी--(इसे 'मेरे महबूब क़यामत होगी की तरह गुनगुनाएं..)
बूढ़े यादव जब क़यामत होगी... तेरे सर पे ही सारी तोहमत होगी...
मैं तो खुश हूँ के ब्लॉग को रंग लेता हूँ... तेरी धोबी के कुत्ते सी हालात होगी..
हिंदी को किताबी जो बनाएगा अगर... तेरे जैसों की हिंदी की खिलाफत होगी....

गुरु ग्रहदशाल याने पं. डी. के. शर्मा 'वत्स'--
मेरी हर पोस्ट पे लटके हैं तारे..
टिप्पी तेरी मांगें.. तू आजा रे..(डैडी फिल्म के गाने 'आसमा की छत की तरह गुनगुनाएं)

पर्सनल कंप्यूटर वायरस या पी.सी. गोदियाल जी--
मेरी पोस्ट पर तुम टिप्पणी ना फेंको.. पंगा हो जायेगा..
इस पंगे से मैं भड़क गया तो देखो... दंगा हो जायेगा...(तुम प्यार से मेरी तरफ ना देखो...)

विचारों के अचार भाई सतीश सक्सेना जी--
मैं तेरे साथ हूँ जहाँ तू है...
गर हिंदी का रहनुमा तू है...

डॉ. खतरा ऊप्स डॉ. दराल--
ओssssss कि कूड़ा जान कर तुम तो कहीं भी टीप जाते हो...
ये मेरी दिल्ली है जो तुम ब्लॉग पर देख जाते हो.. ओssssss

कुलबुलाते कीटनाशक ताऊ रामपुरिया जी--
हम तुम इक पोस्ट लिख रहे हों.. और होली आ जाये..
मैं होली से कह दूँ.. पहेली बूझ देssssss तो मुझे रंग जाए..

देशी स्नोव्हाइट रानी विशाल जी--
ब्लॉग के रंग में रंगने वाली.. ब्लोगर हो या हो.. विशाल(जी) की रानी..
या हो तुम कोई पोस्ट पुरानी... मेरे सवालों का... जवाब दो... दोssss ना...

कलम कातिल अर्थात रश्मिप्रभा जी--
ब्लोगर की तरह लिखती ही रही हूँ मैं....
कभी इस रंग से कभी उस रंग से.. रचती ही रही हूँ मैं...

कमसिन मोहब्बत या अवधिया जी--
आजकल मेरे-मेरे ब्लॉग के चर्चे हैं बाज़ार में..
रंग को मालूम है और भंग को खबर हो गयी...

राहू-केतु की नानी अरे अपनी संगीता पुरी जी--
कलम से सितारे लपेटे हुए.. वो जाने कोई फिर पोस्ट लिख रही हैं...
ज़रा कम लिखें तो.. रंग छा जाये...

गिलगिला शरीफा उर्फ़ वंदना जी--
छोड़ दें पोस्ट लिखना होली के लिए...
ये मुनासिब नहीं हमारे लिए...

अब पेश है चाय.. चाय?? हाँ जी.. लिप्टन टाइगर के बाद अब आई है-
ब्लोगिंग टाइगर चाय.. चूहादिल हैवानों के लिए यानी ललित शर्मा जी के लिए--
है अगर ब्लोगर ज़माना.. ग़म नहीं ग़म नहीं.. 
जो भी आये .. रंग लाये हम भिड़ेंगे कम नहीं.. कम नहीं....

बिल्लोचनी ज्योति वर्मा--
आपकी नज़रों ने समझा ब्लॉग के काबिल मुझे..
मेरी पोस्टों पर ठहर जा.. दे दे तू टिपिया मुझे...

नाक में दम गिरिजेश राव भईया--
यहाँ-वहाँ जहाँ-तहाँ मत पूछो कहाँ-कहाँ
शब्द गलत हैं हाँ...
ओ अपनी हिंदी हैं माँ.. ओ अपने हिंदी हैं माँ...

ज़हरीली मौत उर्फ़ कुलवंत हैप्पी--
नशा ये भांग का नशा है.... नशे में रंग में डूब जाओ..
लिखो ना ब्लॉग पे दिवानों.. ओ दिवानों...

रक्तपिपासु मृग याने शाहिद भाई--
और इस ब्लॉग में क्या रखा है...
होली का पोस्ट छुपा रखा है...

'ओ तेरी नाश हो' दिगंबर नासवा जी--
तुमने पुकारा ना पर.. हम चले आये...
हर पोस्ट पर चटका हम लगाये रे...

लच्छू डोन या देवेन्द्र पाण्डेय जी--
दिखाई के ब्लॉग बनारस वाला
लगा दूँ खुली अकल का ताला...

सादा गुलाल मनोज कुमार जी--
ये ब्लॉग है ज्ञान की खानों का..
हिंदी की संतानों का..
पर बेनामी का क्या कहना..
अच्छा है चुप ही रहना..

विज्ञान की दुकान डॉ. अरविन्द मिश्र जी--
ना ब्लोगर बनेगा ना इंसान बनेगा..
इस देश का हर बच्चा विज्ञान बनेगा..

वीरान बंगला उर्फ़ श्यामल सुमन जी--
हमसे प्यारा ब्लॉगवुड में होगा.. होगा ना कोई ब्लॉग..
के आज रंग में भांग की राख आ गई...

एशियन पेंट रंजना भाटिया--
के तुमने आते आते बहुत देर कर दी..
बासी हुई पोस्ट जब.. टिप्पणी तब कर दी..  

बोडम बारूद अजय कुमार जी--
टोपी के नीचे क्या है.. पोस्टों के पीछे..
रे पोस्टों में रंग है मेरी... भांग का....

नक्षत्र डायमंड लावण्या दीदी शाह जी--
ज्योति कलश छलके.. कलश से रंग अबीर ढुलके...

बेगानी शादी में संजय दीवाना अर्थात संजय बेंगाणी--
राम से बड़ा राम का नाम...लोग करते मुझको बदनाम..

टॉफी वाले अंकल यानि सुमन नाईस--
आया रे टॉफी वाला.. नाईस टॉफी लेके आया रे.. आया रे..
हर ब्लॉग के बच्चों को दुलराया रे..  दुलराया रे..

'निचुड़े गन्ने' महेंद्र मिश्र जी--
पढ़ते हुए.. आते हैं सब.. टीपता हुआ जो जायेगा..
वो दुआओं का समंदर, मेरी सब ले जायेगा...#

'बागड़बिल्ला' रावेन्द्र रवि जी--
नगरी नगरी द्वारे द्वारे घूमूं मैं ब्लोगरिया....

'हनी बी' लता 'हया' दी--
मेरे पास टाइम नहीं.. ओ ब्लोगिंग को टाइम नहीं...
होली पे गर पोस्ट ना डालूँ.. ये तो कोई क्राइम नहीं...

निंचुड़े निम्बू सुलभ भाई सतरंगी--
ब्लोग्वासी-ब्लोग्वासी जाना नहीं...
बिना टीप के.. बिना टीप के..

'खामोश पानी' सरवत ज़माल जी--
मांगने वाला है इंसान.. बांटने वाला है इंसान..
टिप्पणी का क्या खेल रचा.. ये कैसा तेरा विधान....

'भटकती आत्मा' शमा या क्षमा जी--
शमा सुनाओ हमें वो कहानी..
जिसमे सच की मिली हो निशानी...

करेले की चाय उर्फ़ राजकुमार सोनी उस्ताद--
जाने वाले जरा होशियार.. आगे पीछे तू रंग ना मार..
हम हैं ब्लॉग के राजकुमार...

'बोगड़वसंत' तेजप्रताप--
कोई जब हमारा ब्लॉग देख ले.. देख कर जब कोई उसे टीप दे..
तभी वो यहाँ से जाए प्रिये...

अगली हिन्दुस्तानी मिसाइल याने वाणी दी--
सुबह से लेकर शाम तक.. शाम से लेकर रात तक...
ब्लॉग पढूं... मैं तो बस ब्लॉग पढूं
चाणक्यावतार डॉ. आदित्य कुमार जी--
तेरे ब्लॉग पे खड़ा एक जोगी.. तेरे ब्लॉग पे खड़ा एक जोगी..
ना मांगे वो टिप्पा-टिप्पी मांगे रंग लगाही.. तेरे ब्लॉग पे...

सज्जन सांड उर्फ़ राकेश वर्मा जी--
तेरे मेरे ब्लॉग अब एक रंग हैं...
तू जहाँ भी ले जाये संजीव हम संग हैं...

खतरा फैक्ट्री या सुरेश चिपलूनकर भैया जी--
मैं छेडूंगा तो बोलेगा के छेड़ता है..
मेरा लहू लाल नहीं भगवा है...

खूंखार मेमना मतलब पवन सिंह जी--
अपनी मर्जी से कहाँ ब्लोगिंग के सफ़र पे हम हैं...
शौक़ ग़ज़ल का है.. इसलिए हम हैं...

'ऑक्सीजन सिलेंडर' या शीबा असलम फहमी जी--
ब्लोगिंग के सब साथी.. अपना ना कोय.. हे राम.. हे राम..

खुलता रंग उर्फ़ भाई संजीव कुरीलिया--
(इसे परदेस फिल्म के गाने 'दीवाना दिल..' कि तरह पढ़ें)
दीवाना रंग... है लगवाना...
है लगवाना.... मुझे तो रंग..
पर पहले पोस्ट को मेरी टीपो..ब्रश से रंग लगाना सीखो..
दीवाना रंग...

'भुंजीभांग' किशोर भाई चौधरी--
मेरी ब्लोगिंग रे.. मेरी ब्लोगिंग रे..
सनम ब्लोगिंग उड़ा ले गई.. मेरी निंदिया रे..

गेंहू की धुन या जाकिर अली 'रजनीश' भाई--
अवार्ड की धुन सुनाता हूँ.. डांट फिर भी खाता हूँ..
ओ डिस्को ब्लोगरा.. ओ डिस्को ब्लोगरा..

सुरीली घटा उर्फ़ रूचि बीबे--
ठांडे रहियो ओ टिप्पाकार रे.. मेरे ब्लॉग के आये तुम द्वार रे..
करके लायी मैं पोस्ट श्रृंगार रे...

'दाढ़ी में तिनका' काजल कुमार--
रे कार्टून जा जा जा... रे कार्टून जा जा जा..
जल्दी से सारे टीपू को.. पोस्ट पे ले आ...

छछूंदर का तेल मायने श्रीश पाठक 'प्रखर'--
मैं चटका लगा आया हूँ तेरी पोस्ट पे...
बस कमेंट का वास्ते.. बस कमेन्ट के वास्ते...

'बुद्धिजीवी उड़न छिपकली' जिन्हें पारुल भी कह सकते है--
सौ साल पहले मुझे ब्लॉग से प्यार था.. आज भी है और कल भी रहेगा...

'सूखे बहेड़े के पेड़े' जनकवि योगेन्द्र मौदगिल जी--
'रंग उडाता हूँ मैं... खूब हँसाता हूँ मैं..
मैंने ब्लोगिंग का वादा किया था कभी..
पर अक्सर उसे भूल जाता हूँ मैं...
और आखिर में इस धरती का सबसे शैतान जीव..'बेनामी'--
अँधेरी रातों में... सुनसान ब्लोगों पे...
इक बेनामी निकलता है.. उसे लोग लफंगा कहते हैं...

आप सबको परिवार सहित होली की शुभकामनाएं... बुरा ना मानें.. ये सब स्वस्थ मजाक के वास्ते लिखा गया है.. ईश्वर साक्षी है कि मेरे मन में किसी के लिए कोई दुर्भावना नहीं..
 दीपक 'मशाल'

47 टिप्‍पणियां:

  1. रंग बिरंगे त्यौहार होली की रंगारंग शुभकामनाए

    उत्तर देंहटाएं
  2. ha ha ha
    aapane kitani mehanat ki hai dikh raha hai yakinan avkaash ka pura pura upyog kiya hai ...bhadiya rahi holi ki dhamaal!
    Aapko sapariwaar holi ki hardik shubhkaamane!

    उत्तर देंहटाएं
  3. होली की ढेर सारी शुभ कामनाएँ.nice

    उत्तर देंहटाएं
  4. THANX A LOT FOR INCLUDING IN THE BLOGGER'S LIST...

    HAPY HOLI TO YOU & YOUR FAMILY...

    ---- RAKESH VERMA

    उत्तर देंहटाएं
  5. मजेदार
    होली की शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  6. प्यारा मुझको लगा बहुत कि बंगला मैं वीरान।
    जब मशाल दीपक बन जाये अलग लगे पहचान।।

    होली की शुभकामना।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  7. हा हा हहा हा
    अच्छा मियाँ बाल की दूकान और लुटे हुए पहलवान...
    सबकी खटिया खड़ी कर दी....
    बहुत बढ़िया....ऊ का कहते हैं ना जमले बा जमनिया ....
    हाँ नहीं तो...!!

    उत्तर देंहटाएं
  8. अच्छे आविष्कार किये हैं , होली पर ।
    होली की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  9. वाह बेटा क्या पोल खोली है सब कि अब तो मुझे डर है तुम्हारा इस होली पर जो हाल होने वाला है बस मैने तो आँखें बन्द कर ली हैं। अच्छा हुया तुम विदेश मे हो नही तो तुम्हारी जो गत बनती सब नज़ारा देखते। बहुत अच्छी लगी ये पोस्ट भी। होली की हार्दिक शुभकामनायें आशीर्वाद्

    उत्तर देंहटाएं
  10. अरे!..क्या-क्या उपाधियां सबको दे रहे हो गुरु...
    होली मुबारक

    उत्तर देंहटाएं
  11. दीपक जी.........
    गुर्र.गुर्र..गुर्र...आदाब
    अरे...हां...(म्याऊं)
    ..होली हैं....मुबारक हो.

    उत्तर देंहटाएं
  12. दीपक 'मशाल', ब्लोगिंग में होली का धमाल!

    भंग की तरंग में होली के रंग में प्यार की पिचकारी चलाने दीपक आया है!
    राग-द्वेष भेद-भाव को भस्म करने के लिये उसने अपना मशाल जलाया है!!


    आप तथा सभी ब्लॉगर मित्रों को होली की शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  13. हँसते खिलखिलाते और आपकी इस पोस्ट को लिखने में लगी मेहनत को ढेरो दाद देते इस होली पर हम सब आपके साथ हैं...आप हमेशा यूँ ही सबका दिल लूटते रहें ये ही कामना है...
    नीरज

    उत्तर देंहटाएं
  14. कमाल है दीपक जी ,आपके माध्यम से हम सब ने एक साथ होली खेल ली ,ऐसा लग रहा है ।पुरानी याद ताजा हो गई ।होली के आसपास कालेज में ऐसे ही टांग खींचूं इस्तहार लगे रहते थे ,और हम लोट पोट होते रहते थे ।

    उत्तर देंहटाएं
  15. वाह .. वाह ... नया अंदाज़ है होली मानने का ... नेट होली ....
    अच्छा लपेटा है सबको ....
    आपको और आपके परिवार को होली की मंगल-कामनाएँ ....

    उत्तर देंहटाएं
  16. वाह चौरसिया जी, मजेदार.

    आपको होली की रंरंगीली बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  17. dear mashal ki premika ka rang
    dear dipak mashal ki pichakari
    pyar ke rang se rang do ye duniya sari
    ye rang na jane koi jaat na koi boli
    badhai ho badhai happy holi...

    bura na mano holi hai.....

    उत्तर देंहटाएं
  18. HAHAHAHAHA.........BAHUT KHOOB.......PAHLE SABKO LAPET DIYA AUR AB BACHNA CHAHTE HO YE KAISE SAMBHAV HAI.........AB TO TAIYAAR HO JAO ABHI AA RAHE HAIN SAB RANGNE............HAPPY HOLI.

    उत्तर देंहटाएं
  19. ऐसी मशाल से होली जलाई कि बुझे का नाम नहीं. मित्रों को चिड़ाना, उनके नाम रखना होली के ढेर रंगो में एक रंग है. आपने भिगो दिया.

    उत्तर देंहटाएं
  20. वाह दीपक जी क्या जलाई है आपने मशाल
    होली के हुड़दंग के साथ खुब किया धमाल

    हैप्पी हो्ली
    हैप्पी ब्लागिंग

    उत्तर देंहटाएं
  21. होली पर्व की हार्दिक शुभकामनाये और ढेरो बधाई
    भारत से कल आवाज आ रही थी आप के नाम से ...
    दुर रह कर ना करो बात.....
    हाथ लग जाओ ईक बार फ़िर बता जाओ....

    उत्तर देंहटाएं
  22. भाई बेबाकी भाई...!

    होली की अनगिन बधाई,..!

    उत्तर देंहटाएं
  23. होली की रंगभरी शुभकामनाएँ स्वीकार करें!

    उत्तर देंहटाएं
  24. Ashok Kumar ji Said-
    Excellent Deepakji

    I tried to send something in Hindi on the blog but cudn't succeed

    Shall try again

    Ashok

    उत्तर देंहटाएं
  25. खूब मेहनत की आपने टाइटिल बनाने में. होली की बहुत-बहुत शुभकामनायें.

    उत्तर देंहटाएं
  26. Wah,wah,wah! Hanste hanste dam nikal gaya!Mehnat khoob rang layi hai!

    उत्तर देंहटाएं
  27. दीपक !
    तुम्हारे आने से होली का आनंद दोगुना हुआ,आभारी हूँ !स्नेह के लिए धन्यवाद !
    सादर

    उत्तर देंहटाएं
  28. दीपक जी, होली का असली रंग तो आप पर चढा दिखाई दे रहा है :-)सबकी अच्छी चुटकी ली :-)
    आपको भी सपरिवार रंगोत्सव की हार्दिक शुभकामनाऎँ!!!!

    उत्तर देंहटाएं
  29. बहुत मेहनत की है .. होली की शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  30. बड़ा मजेदार है आपका ये गाना
    सबको बनाने में ही खुद बन जाना।

    बात बुरी लगे नहीं लिखे मनमाना
    होली में हमको है यही तो मनाना

    आपको होली की हार्दिक शुभकामनाएं।

    उत्तर देंहटाएं
  31. आपको और आपके परिवार को होली पर्व की हार्दिक बधाइयाँ एवं शुभकामनायें!

    उत्तर देंहटाएं
  32. अरे ओ उजड़ी मज़ार के चिराग उर्फ दीपक मशाल .. तुम्हारे दिये हुए टाइतल पढकर तो मै हँस हँस कर लोटपोत हुए जा रहा हूँ । बस इसी तरह दिमाग पे धार लगाते रहो .. शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  33. :):)
    होली की बहुत शुभकामनायें ...!!

    उत्तर देंहटाएं
  34. वाह ... वाह रे मेरे उजड़ते-उजड़ते बच गये चमन, इतनी मेहनत, होली के नाम, यह बतलाओ आई काम?
    शुभ होली.

    उत्तर देंहटाएं
  35. देर से आये फिर भी दुरस्त आये
    एशियन पेंट का रंग कभी बासा न कहलाये :)
    बहुत खूब मजा आ गया सबके बारे में पढ़ कर ..होली मुबारक

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...