मंगलवार, 16 फ़रवरी 2010

1-पवन जी.. singhsdm, यशवंत भाई, बेनामी जी 2-डॉ.टी.एस.दराल सर, अदा दी, समीर जी 3-अपनत्व ब्लॉग वाली मैम, मनोज कुमार जी, बड़े भाई खुशदीप जी, संजय जी------>>>दीपक 'मशाल'

परिणाम घोषित करने से पहले... आप लोगों से मुआफी माँगना निहायत ही जरूरी है.. वो इसलिए कि ये चेहरे ना बूझ पाने का कारण ये नहीं कि आप इन्हें पहिचान नहीं पा रहे या मैंने राजीव तनेजा जी की तरह कोई नकाब पहना रखा है.
बल्कि इकलौता कारण है कैरिकैचर बनाने में मेरा कच्चापन.. अब्बल तो मैंने पहली बार बनाने का प्रयास किया.. वो भी १०-१२ मिनट में पहले ४ चित्र बनाये..( सोचा एम.ऍफ़.हुसैन की स्पीड से बना के देखता हूँ) हाँ उर्मिला बनाने में जरूर ३०-४० मिनट लगे.. और ऊपर से अतिआत्मविश्वास ने भी मेरा शिकार कर लिया ;)
खैर अपने आप को ये समझा  लिया ये सोच के कि भाई ५ साल पहले बनाये थे.. कोन आज के बने हैं.. और फिर पहली बार इस कला को आजमाया..
तो बता ही देता हूँ कि कौन सा चित्र किसका बनाने की कोशिश की(और बना नहीं पाया :'(   )
यहाँ आपको दिखाने का यही मकसद था कि खुद से पता नहीं चलता कि कौन सा ठीक है और कौन सा नहीं.. तो आप से चल जायेगा...
आपने भरपूर सहयोग दिया इसके लिए आभारी हूँ.. हाँ ख़ुशी की बात ये भी है कि जो ५ बनाये उनके नाम लोगों ने बता तो दिए लेकिन किसी ने १ किसी ने २.. इस तरह से.. समीर जी ने भी ढंग से टांग खींची.. :)
तीसरे चित्र जॉन और बिपाशा को सिर्फ संजय कुमार जी(मेरे जीजा जी) पहिचान पाए .. मुझे खुद नहीं समझ आ रहा कि पहिचाना कैसे???
उत्तर इस प्रकार हैं-

१- अभिषेक बच्चन(ये गेटअप ४ साल पहले अभिषेक जब दिल्ली यूनिवर्सिटी आये तो उस समय रखा था)


२-अजय देवगन(जबड़ा बिगड़ गया जी)


३-रक्त पिपासा ऊप्स बिपाशा- जॉन अब्राहम


४-शाहरुख़(ॐ शांति ॐ)


५-उर्मिला तोड़ मरोड़कर.. यानि मांतोडकर (२००२ लुक)


सबसे ज्यादा ३ सही बताये पवन जी.. singhsdm ने जिनका कि आभारी हूँ कि वो ब्लॉग पर पहली बार आये और फकीरा ब्लॉग वाले यशवंत भाई ने..
उसके बाद बेनामी जी ने भी ३ ही सही जवाब दिए.. आप नाम बताते तो और भी अच्छा लगता..
फिर डॉ.टी.एस.दराल सर, अदा दी और समीर जी ने २-२ सही बताये ..
अपनत्व ब्लॉग वाली मैम, मनोज कुमार जी, बड़े भाई खुशदीप जी, संजय जी सभी ने १-१ सही बताये..
हौसला बढ़ाने के लिए आप सभी के अलावा संगीता पुरी मैम, वंदना जी, पं.डी. के. शर्मा 'वत्स' जी, डॉ. रूप चन्द्र शास्त्री 'मयंक' जी, रावेन्द्र कुमार 'रवि' जी, अजय झा भैया, विवेक रस्तोगी जी, संजय भास्कर जी, कुमारेन्द्र चाचा जी और राज भाटिया सर का बेहद शुक्रगुज़ार हूँ..

बुरा ना मानें तो आज ये जरूर बताते जाएँ कि कौन सा कार्टून
 कितने प्रतिशत मिल रहा है.. आप 0 % भी लिख सकते हैं
लेकिन बताइयेगा सच-सच.. जिससे कि आगे के लिए बनाना

आसान रहेगा..


(एक विनम्र निवेदन है कि आप लोग खुशदीप भाई की कल की बहुत ही महत्वपूर्ण पोस्ट के नीचे जो song  का लिंक दिया था वो सुनें जरूर.. वो एक ऐसा गाना है जो दिल रखने वालों के आँसू निकाल देता है..)
दीपक 'मशाल'

22 टिप्‍पणियां:

  1. उर्मिला तो ७०% बाकी पर हम मौन काहे कि पान खा रहे हैं, कमीज पर न गिर जाये!! :)


    लगे रहो महाराज...हतोत्साहित करना तो हमारा उद्देश्य हो ही नहीं सकता. तुम तो जानते हो. :)

    उत्तर देंहटाएं
  2. दीपक, कभी खाली वक्त मिले तो ब्लॉगर साथियों के चेहरों के साथ भी ये कलाकारी करो...

    ये कार्टून, प्रतिशत वाली गुगली को पढ़ना मुश्किल हो रहा है...ज़रा समझाओ तो...

    जय हिंद...

    उत्तर देंहटाएं
  3. protsaahan dene ke liye hee prayas kiye kai var.
    Urmila jee ko kafee tavajju dee gayee.......:) hooo.....ise bhee khichaee hee kahate hai .
    prayas accha tha ........
    Aasheesh .
    jai Bundelkhand.

    उत्तर देंहटाएं
  4. maine 2 sahi bataye the..
    1 urmila
    2 ajay devgan

    mujhe to bas urmila aur ajay ki hi jhalak mili baki..kisi ki bhi nahi mili...
    ab tum meri taraf se bakiyon ke liye 0% hi samjho...ha ha ha
    didi...

    उत्तर देंहटाएं
  5. जिनके नाम घोषित हुए उन्हें बधाई। कार्टून वाली बात समझ न सका।

    सादर
    श्यामल सुमन
    09955373288
    www.manoramsuman.blogspot.com

    उत्तर देंहटाएं
  6. हमने दो पहचान लिए , सबको और हमको भी बधाई।
    शायद फिल्मे देखने का यही फायदा है।
    वैसे उर्मिला तो १००% सही लग रही है।

    उत्तर देंहटाएं
  7. ओह ! मैं लेट हो गया..... क्या करूँ.... आजकल टाइम ही नहीं मिल पा रहा है......

    उत्तर देंहटाएं
  8. ांच्छा तो इस पर भी हाथ आजमा रहे हो मुझे पता ही नही चला\ खैर पहेलियों के मामले मे नालायक हूंम ये कार्टून वाले बात मुझे भी समझ नही आयी। आशीर्वाद्

    उत्तर देंहटाएं
  9. ये कार्टून, प्रतिशत वाली गुगली को पढ़ना मुश्किल हो रहा है...ज़रा समझाओ तो

    उत्तर देंहटाएं
  10. उर्मिला मातोडकर 80 प्रतिशत , अजय देवगण 75 प्रतिशत और शाहरूख खान 70 प्रतिशत .. बाकी का नहीं बता सकती !!

    उत्तर देंहटाएं
  11. are deepak ji
    maine to kaha hi tha jo bhi sahi bataye wo hihamara jawaab hai.......dekha sare jawaab hamare sahi ho gaye.........hahahaha...........vaise kafi achcha banate hain aap ,lage rahiye poorna maharat bhi hasil ho jayegi.

    उत्तर देंहटाएं
  12. मुझे अभिषेक बच्चन भी लग रहे थे और कुनाल कपूर भी
    फिर मैने कुनाल कपूर लिख दिया,
    मेरे अनुमान से प्रतिशत बता देता हूँ
    १. ५५ %
    २. ८० %
    ३. शून्य %
    ४. ६० %
    ५. १०० %

    एक ईमानदार कोशिश करी है प्रतिशत बताने की, आपका प्रयास सराहनीय है और आगे कोशिश जारी रखिये, निखारते रहिये कला को

    उत्तर देंहटाएं
  13. dear dipakji,

    jis chitra ko dekhkar aapne ye chitra banaya tha, woh chitra meri memory mai kahin tha,
    so recall ho gaya aur....

    aapke ander kitni kalayen hai woh to aapko bhi
    nahi pata, aap mai jadoo hai

    dhanyabad

    उत्तर देंहटाएं
  14. mujhe lag raha hai aap log kuchh riyayat kar rahe hain kyonki urmi ko chhod koi bhi 10-20% se jayda resemble karte to mujhe khud nahin dikha raha.. :)

    उत्तर देंहटाएं
  15. हम तो केवल उर्मिला को ही पहचान पाये थे, और बाकी को तो वाकई हम पहचान ही नहीं पाये, चलो अब अच्छी कलाकारी की उम्मीद है।

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत उम्दा पोस्ट दीपक जी। खुशदीप भाई की बात पर गौर कीजिएगा।

    उत्तर देंहटाएं
  17. पास मतलब पास!बढिया बने है सभी चित्र,तो आप भी उर्मिला के रंग मे रंगे हुये थे हैं,सोचना पड़ेगा अब तो,

    उत्तर देंहटाएं
  18. बवाल जी, कला छोड़े हुए बहुत समय हो गया.. ज़रा हाथ रमा कर लूं फिर आप लोगों के आदेश का पालन करता हूँ..
    जय हिंद.. जय बुंदेलखंड...

    उत्तर देंहटाएं
  19. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  20. देखो वादा करो कि कविता लिखना बंद नहीं करोगे और गद्य में भी करामत दिखाओगे तो प्रतिशत बताएं नहीं तो कहेंगे कि बकवास.............
    लगे रहो तुन्हारे हुनर और प्रतिभा पर बचपन से ही भरोसा रहा है.
    जय हिन्द, जय बुन्देलखण्ड

    उत्तर देंहटाएं
  21. अरे नहीं चाचा जी.. मैं भला कविता-कहानी छोड़ सकता हूँ क्या... :) उसपे भी आप का कहना टाल दूँ.. ये कैसे मुमकिन है भला??
    जय हिंद... जय बुंदेलखंड...

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...