सोमवार, 1 मार्च 2010

टाइटैनिक के शहर में होली------>>>>दीपक 'मशाल'

बेलफास्ट में होली दिवाली एक साथ.. आप कह रहे होंगे कि दोनों महा-त्यौहार एक साथ कैसे??? बेवक़ूफ़ बना रहा है.. लेकिन नहीं भाई... सच में धमाकेदार पटाखों के चलने से उपजी बारूदी गंध और होली के रंग को देख कर तो यही लगा कि होली और दिवाली दोनों आज ही हैं.. :)

दोस्तों वैसे वतन से दूर रह कर होली मनाने का सोचकर लगता तो ऐसा है कि ये सब रस्म-अदायगी के अलावा और कुछ नहीं होगा....लेकिन हकीकत एकदम उलट है.. यानी की जितने खूबसूरत ढंग से इसे हम भारत में नहीं मनाते उतने से यहाँ मनाते हैं... ये मेरी यहाँ बेलफास्ट, उत्तरी आयरलैंड(यूनाईटेड किंगडम) में मनी दूसरी होली है.. भारत के अलावा दुनिया के किसी और हिस्से में होली कैसे मनाई जाती है ये उत्सुकता हर उस व्यक्ति के मन में रहती है जिसने अपने देश से बाहर ये पर्व ना मनाया हो... तो चलिए मैं आप लोगों की आँख और कान बनकर आपको थोड़ा-थोड़ा अहसास कराने की कोशिश करूंगा उस पल का जो मैंने अभी-अभी यहाँ जिया है...
१- घर से होली स्थल की ओर निकलते ही रास्ते का दृश्य, घर से अच्छे से ऊनी कपड़ों में लिपट के निकले.. आखिर जीरो डिग्री तापमान जो था-
२- होली महोत्सव के लिए आमंत्रण पत्र-
३- प्रवेशद्वार पर लगी देशी-विदेशी मित्रों की भीड़-
४- थोड़ा और आगे चलने पर दिखते व्यस्त लोग


५- जब तक हम पहुंचे कुछ रंगारंग कार्यक्रम तो छूट ही चुके थे... जैसे हमारे एक मित्र शिवा का 'रंग बरसे भीगे चुनर वाली' गीत.. :(
6- बच्चों के लिए लगाई गयी रेलगाड़ी-
७- होली के लिए तैयार अँगरेज़ स्वयंसेवी
८- जमा हुई भीड़ का एक दृश्य-
९- डांडिया नृत्य-
१०- डांडिया नृत्य
११- एक आयरिश नर्तकी-
१२- अब कुछ स्वाद के लिए ढूँढा जाये.. ये है हिन्दुस्तानी खाना-खज़ाना-
१३- वाह है ना मुँह में पानी लाने लायक???
१४- भारतीय हस्त शिल्प की एक दुकान-
१५- एक और शिल्पकारी की दुकान-
१६- जय हो... गीत पर एक सामूहिक प्रस्तुति-
१७- भांगड़ा टाइम-
१८- राजस्थानी नृत्य-
१९- रंग बरसाने का टाइम आया रे-
२०- अंग्रेजों के बच्चे तक रंगे थे.. हिन्दुस्तानी रंग में  :) मगर दुःख की बात तो यही थी कि हम लोग तो सिर्फ अपने जान पहिचान के लोगों को रंग लगा रहे थे.. जबकि अँगरेज़ ना हिन्दुस्तानी देख रहे थे.. ना इंगलिश्तानी और ना पाकिस्तानी.. वो सिर्फ इंसां देखते थे और रंग देते थे.. चाहे उसे जानते हों या नहीं.. लगा कि हम होली भूल गए और अब इनसे सीखने आये हैं-
२१- कुछ हिन्दुस्तानी दोस्तों के साथ मैं(सबसे दायें हैं श्री मुकेश शर्मा जोकि आर्ट्स एकता या प्रायोजक समिति के निदेशक हैं..)
२२- एक बार फिर कुछ और दोस्तों के साथ-
२३- हाँ भाई.. ये भी अजब खेल था.. हम तो खेले सूखे रंग यानी गुलाल से और इस बेचारे पुट्ठे के हाथी के ऊपर लिख दिया  कि इसे गीले रंग से भिगायें..
२४- डांस करते हुए एक और तस्वीर-
२५- नचा दिया अँगरेज़ को बॉलीवुड गाने पर-
२६- आखिरी गाने पर लोग स्टेज पर ही चढ़ गए.. भाई हम हिन्दुस्तानी...
२७- भूख लगी थी.. सो आइसक्रीम खा ली..
२८-बाहर आ गए भाई.. अब तो..
२९- अरे हाँ बताना भूल गया... बुढ़िया(गुड़िया) के बाल भी तो खाए थे...
सबसे मजेदार रही रेलगाड़ी.. जब वहाँ पर मौजूद करीब २००-२५० युवकों-युवतियों ने मिलकर एक रेलगाड़ी बनायी और छुक-छुक करते पूरे हाल में दौड़ाई.. लेकिन अफ़सोस कि मैं रेल का एक डब्बा बनने में इतना मस्त हो गया कि तस्वीर ना ले पाया..
तो इस तरह बिना गुझियों के सही लेकिन प्रेम से मनाई होली हमने भी.. :)
बताइयेगा जरूर कैसी लगी ये टाइटैनिक के शहर में होली..
दीपक 'मशाल'

35 टिप्‍पणियां:

  1. आपको तथा आपके परिवार को होली की शुभकामनाएँ.nice

    उत्तर देंहटाएं
  2. sahee raha . vaise aap paenge ki janha bhee bhartiy pahuche hai miljulkar josh ke sath har tyohar manate hai . Meree ek betee jab London ke Goodeneough hostel me rah rahee thee vanha 65 country ke student the aur sabhee ke tyohar bade josh se sab milkar manate the.aise hee to ek doosare kee sanskruti ka pata chalta hai........Gunjiya jaisee mithai bhee vaha mil jatee hai......sach to ye hai ki shahro me sab thanda mamla hota ja raha hai.kal Dr mahour jee kee jayantee Jhansi me manai gayee.ve shaheed Chandrshekhar ke sathee the .mera soubhagy hai ki mujhe bhee udhyapan karate samay unke sath rahne ka.......( Bundelkhand college me )avsar mila.
    khush raho aage bado isee bhav ke sath .

    उत्तर देंहटाएं
  3. बहुत अच्छा लगा जानकर और तस्वीरें देखकर!!


    ये रंग भरा त्यौहार, चलो हम होली खेलें
    प्रीत की बहे बयार, चलो हम होली खेलें.
    पाले जितने द्वेष, चलो उनको बिसरा दें,
    खुशी की हो बौछार,चलो हम होली खेलें.


    आप एवं आपके परिवार को होली मुबारक.

    -समीर लाल ’समीर’

    उत्तर देंहटाएं
  4. रंग बिरंगे त्यौहार होली की रंगारंग शुभकामनाए

    उत्तर देंहटाएं
  5. अरे वाह दीपक भाई । हरियाणवी होली बेलफास्ट में भी पहुँच गई।
    एयर कंडीशंड हॉल में होली देखकर आनंद आ गया।
    वैसे होली का मज़ा तो इसी बात में है की अनजान लोग भी गले मिलते हैं।

    होली की हार्दिक शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  6. भाई सजीव कर दिया
    होली की बधाई

    उत्तर देंहटाएं
  7. गोरों के देश में अपनी होली का आँखों देखा हाल पोस्ट करने के लिए आभारी हूँ. तुम्हारी यह पोस्ट देखकर बहुत दुःख हुआ. जिन अंग्रेजों का यह त्यौहार नहीं, उनका ये उत्साह और हम.... !!! वहां भी अँधा बांटे रेवड़ी गिन गिन अपनों को. खुशी में भी अपने-पराए की घृणित पहचान! धिक्कार है ऐसे लोगों पर.
    हम तो होली में सिर्फ इन्सान देखते हैं.
    शुभ होली.

    उत्तर देंहटाएं
  8. वाह बहुत अच्छी रही तुम्हारी होली । तस्वीरों से ही पता चल रहा है कि कितना अच्छा लगा होगा। लगता है खाया भी खूब है तुमने बच्चू सेहत का ध्यान रखना
    होली की हार्दिक शुभकामनायें आशीर्वाद।

    उत्तर देंहटाएं
  9. deepak ji
    sach itni khoobsoorat holi ka aanand yahin baithe itna aa gaya ki laga jaise hum bhi aapke sath wahin the..........bahut sundar sachitra varnan kiya hai ..........bahut achcha laga jab aapne kaha ki shayad hum holi khelna bhool gaye hain shayad ye sach hai ........kabhi kabhi aise mauke bahut kuch sochne aur sikhne ko majboor kar dete hain.

    happy holi.

    उत्तर देंहटाएं
  10. अरे वाह ये तो पूरा होली मेला है...मजा आ गया तस्वीरें देख कर ..वाकई भारत से बाहर भारतीय त्यौहार ज्यादा बड़े पैमाने पर मनाये जाते हैं..आपको होली की समस्त शुभकामनाये.

    उत्तर देंहटाएं
  11. रंजन रस रंजन..रोचक मनोरोचक ..

    होली की ढेरों शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  12. भई दीपक जी, चित इस बात के गवाह हैं कि होली का सही आनन्द तो आप लोगों नें लिया....
    बहुत बढिया!
    रंगोत्सव की हार्दिक शुभकामनाऎँ!!!

    उत्तर देंहटाएं
  13. चर्चा मंच पर लगा अपना चित्र
    अपने आदरणीय दोस्तों को भी दिखा देना!
    होली का शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  14. सुंदर चित्रों के द्वारा होली की अनेको शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  15. सुंदर चित्रों से सजी अच्‍छी पोस्‍ट .. होली की अनेको शुभकामनाएं !!

    उत्तर देंहटाएं
  16. बहुत खूबसूरत होली!
    सच तो यह है कि सारे त्यौहार प्यार और भाईचारे के मोहताज होते है...अगर प्रेम है तो सारे त्यौहार बेहद जीवंत और जिन्दादिली से मनाए जाते है नहीं तो घरके उत्सव भी फीके हो जाते है.आपको होली कि बहुत शुभकामनाएं!

    उत्तर देंहटाएं
  17. वाह बच्चा लाल क्या लालम लाल होल खेली है और क्या तस्वीरें खेंची हैं ...
    अजय कुमार झा

    उत्तर देंहटाएं
  18. बेहतरीन विवरण दर्ज किया आपने
    हार्दिक मंगल कामनाये

    उत्तर देंहटाएं
  19. दीपक भाई बहुत सुंदर लगी आप की होली की फ़ोटो, इस बार हम ने होली नही मनाई, वेसे हमारे यहां भारतीया बहुत कम है, इस लिये होली दिपावली मै हम भी १००, १५० के करीब ही लोग होते है, ओर सच मै भारत से अलग रुप होता है यहां मनाने वाली होली ओर दिपावली का, जिस मै हम रंगा रंग प्रोगारम रखते है, ओर सभी मिल कर मनाते है अपने यह त्योहार चाहे गोरा हो या काला जो उस महफ़िल मै आया वो "मै" नही "हम" बन जाता है.ओर फ़िर यह यादे पूरा साल चलती है.
    धन्यवाद

    उत्तर देंहटाएं
  20. अरे वाह दीपक भईया बहुत खूब , लेकिन आप अब भी कुछ छिपा रहे हैं हमसे , अब आप कहेंगे क्या , पहले आप सोचिए तब तक मैं फिर वापस आता हूँ ।

    उत्तर देंहटाएं
  21. प्रिय दीपक जी होली के इंटरनेशनल कलरफ़ुल वर्जन को लांच करने के लिये बधाई और होली की ढेर सारी शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  22. इस टिप्पणी को लेखक द्वारा हटा दिया गया है.

    उत्तर देंहटाएं
  23. Bahut sundar drashya dikhya aapane holi ka...Happy holi :)

    उत्तर देंहटाएं
  24. are waah deepak ..bhoot bane hue bahut hi acche lag rahe ho..bahut hi maza aaya dekh kar ...holi bhi ab internation tyohaar ban jaaye to mazaa aa jaaye..
    didi..

    उत्तर देंहटाएं
  25. अरे दीपक भईया मैं कह रहा था कि जब आप पी के टल्ली हो गयें थे , वो वाली बात तो आपने बतायी ही नहीं , अब पुछेंगे कि मुझे कैसे पता , अरे भईया मैं भी तो वहीं था आप के ही पास ।

    उत्तर देंहटाएं
  26. हाँ भाई दीपक चित्र तो हमने देख लिये । और ऐसा लगा जैसे कि हम उस होली मे शामिल हो गये ..नही नही.. बिना इसमे शामिल हुए इसका मज़ा कैसे आयेगा । चलो तुम्हे मुबारक , हम्से ज़्यादा मज़ा तो तुमने लिया होली का । बधाई ।

    उत्तर देंहटाएं
  27. होली पर बुढिया के बाल तो खाए पर गुझिया?

    होली की शुभकामनाएँ।

    और हाँ, उस अवैधानिक खोए का गाजर-हलवा बना।
    :)

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...