शनिवार, 19 मार्च 2011

फगुनाहट में हुलियाती लाल और मशाल की जुगलबंदी



आप सभी को सपरिवार होरी की हार्दिक शुभकामनाएं... फागुन की फगुनाहट से रोमांचित, ये हुलियाती और मस्ती करती लाल और मशाल की जुगलबंदी आपके सामने हाज़िर है. उम्मीद है पसंद आयेगी.


दो पलों की लेके खुशियाँ वो फिर से आ गई है 
हाँ पकी फसल की बाली लो फिर से आ गई है 

के रंग में मिले रसायन घुलते हैं उड़ रहे हैं
लो नकली खोवे की गुझिया मिरे घर से आ गई है 

मिलावट का खेल यारों इन तक तो चल भी जाता 
ये कड़वी महक मगर अब हर दिल में आ गई है 

दोस्ती औ प्यार अब बच्चे भी सीखें कैसे  
के पिचकारी रूप धर के पिस्टल सा आ गई है 

है प्रेम को जलाती हुई और सत्य को दुत्कारती 
अबकी प्रहलाद जल गया औ साबुत वो आ गई है 

नफरतों ने जिसको गूंगा सा कर दिया है 
तारीख बनके होली वो फिर से आ गई है

महंगाई ने मारा है कुछ लालच से मर गई है
अधजली लाश बनके हर घर में आ गई है 

जो बन गई है केवल दो दिन की प्यारी छुट्टी
वो फागुन की पूर्णमासी आँगन में आ गई है 

हुई मुद्दत 'मशाल' कि नहाया नहीं था वो, 
ये मुई कमबख्त होली लो फिर से आ गई है..

रंगे हैं भ्रष्ट्राचार के रंग में यहाँ नेता सभी 
रंगों को रंगने की भी अब झोली आ गई है

मिला हाथ कानून से यूँ नाचता अपराध रहा
नगाड़ों की आवाज में भी ताली आ गई है

राम और रहीम जो सदियों से मिलते आ रहे 
इनके मिलन में भी अब दलाली आ गई है

कितना विनाश हुआ संस्कृति का देख लो
शिष्टाचार की भाषा में अब गाली आ गई है

सुनते हैं गले मिलेंगे कल फिर सब ’समीर’ से
मौका भी है, दस्तूर भी है, होली आ गई है.

ओंटारियो से कोई, कोई निकला बेलफास्ट से  
हिन्दी ब्लोगिंग के मस्तानों की टोली आ गई है   

'मशाल' की ये लौ हुई तेज़ इतनी 'समीर' से
लग रहा ज्यों जमीं पे सूरज की डोली आ गई है

श्री समीर लाल एवं दीपक मशाल

 

24 टिप्‍पणियां:

  1. 'मशाल' की ये लौ हुई तेज़ इतनी 'समीर' से
    लग रहा ज्यों जमीं पे सूरज की डोली आ गई है
    Aanand aa gaya!

    उत्तर देंहटाएं

  2. वाह दीपक भाई, खूबसूरत गजल के साथ होली का आगाज भा गया। अब टाईटिल का इंतजार है। इतने से पीछा न छुटेगा। होली की शुभकामनाएं।

    ब्लॉगवुड रेड़ियो पर सुनिए होली समाचार

    इंदु पु्री राज्यसभा सांसद मनोनीत

    उत्तर देंहटाएं
  3. KYAA BAAT HAI "मशाल' की ये लौ हुई तेज़ इतनी 'समीर' से
    लग रहा ज्यों जमीं पे सूरज की डोली आ गई है" bahutai sundar yugalbandi hai kaha nahi jaata jaada. Sameer bhaii sahab ko dheron badhaai,ban gaye hain jo ve "dada". AAP SABHI KO HOLI KI SHUBHKAAMNAON SAHIT........AABHARR.

    उत्तर देंहटाएं
  4. सही बात है, इसी बहाने नहाना भी हो जाता है।

    उत्तर देंहटाएं
  5. मसाल को समीर का साथ मिलता रहे। आंधी की नज़र न लगे।
    ..शुभकामनायें।

    उत्तर देंहटाएं
  6. होली की बहुत बहुत शुभकामनाएं , यह पर्व आपके जीवन में खुशियाँ और उमंग लेकर आये .............

    उत्तर देंहटाएं
  7. आ हा हा आनंद आ गया
    होली की शुभकामनाएं

    उत्तर देंहटाएं
  8. होली के पर्व की अशेष मंगल कामनाएं। ईश्वर से यही कामना है कि यह पर्व आपके मन के अवगुणों को जला कर भस्म कर जाए और आपके जीवन में खुशियों के रंग बिखराए।
    आइए इस शुभ अवसर पर वृक्षों को असामयिक मौत से बचाएं तथा अनजाने में होने वाले पाप से लोगों को अवगत कराएं।

    उत्तर देंहटाएं
  9. हुई मुद्दत 'मशाल' कि नहाया नहीं था वो,
    ये मुई कमबख्त होली लो फिर से आ गई है..
    achha hua , chamak gaye nahaker , abeer aashirwaad ka meri taraf se

    उत्तर देंहटाएं
  10. आप को होली की हार्दिक शुभकामनाएं । ठाकुरजी श्रीराधामुकुंदबिहारी आप के जीवन में अपनी कृपा का रंग हमेशा बरसाते रहें।

    उत्तर देंहटाएं
  11. व्यंगों के बाण , इस कदर कस कस कर मारे हैं
    शिकवा करें क्या , हम तो अपनों के हाथों ही हारे हैं ।

    होली पर ये जुगलबंदी पसंद आइ , भाई ।
    शुभकामनायें ।

    उत्तर देंहटाएं
  12. बहुत ही अच्छी जुगलबंदी ....होली की हार्दिक शुभकामनायें

    उत्तर देंहटाएं
  13. सभी का बहुत आभार...

    आपको एवं आपके परिवार को होली की बहुत मुबारकबाद एवं शुभकामनाएँ.

    सादर

    समीर लाल

    उत्तर देंहटाएं
  14. :-)

    आपको परिवार सहित होली की हार्दिक शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  15. आप को सपरिवार होली की बहुत-बहुत शुभकामनाएँ!

    उत्तर देंहटाएं
  16. इस पोस्ट के दोनों जुगलबन्दी कर्ताओं (हा हा) और टिप्पणीकर्ताओं( बधाई दाताओं) व पूरे परिवार को ...होली की शुभकामनाएं....

    उत्तर देंहटाएं
  17. रंगों की चलाई है हमने पिचकारी
    रहे ने कोई झोली खाली
    हमने हर झोली रंगने की
    आज है कसम खाली

    होली की रंग भरी शुभकामनाएँ

    उत्तर देंहटाएं
  18. आपकी एक प्रभावशाली टिप्पणी के कारण हम भी यहाँ रंगों के पर्व को देख पाए...जीवन सतरंगी आभा से खुशहाल रहे..रंगों का पर्व मुबारक्

    उत्तर देंहटाएं
  19. शानदार जुगलबन्दी है भाई.
    रंग-पर्व पर हार्दिक बधाई.

    उत्तर देंहटाएं
  20. बहुत सुन्दर !
    दीपक, आपको होली की बहुत बहुत शुभकामनाये!!

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...