बुधवार, 17 नवंबर 2010

पोर्न-साईट------------------------------------->>>दीपक 'मशाल'


कई विद्वानों के अनर्गल प्रलाप की वजह से हिन्दी ब्लोगिंग से मोहभंग सा हुआ है... मगर सोचकर लगा कि हिन्दी सेवा के लिए गए व्रत को इस तरह अधूरा नहीं छोड़ सकता.
इसलिए व्यस्त समय में जो भी कुछ लिखते बना लिखा.. वही सब आपके सामने है. लेकिन यहाँ नहीं बल्कि इस लिंक पर-
आपका-
दीपक 'मशाल'

12 टिप्‍पणियां:

  1. मोह ही ना रखे जो भंग है . यह एक शौक है और शौक हर कीमत और हर परिस्थति मे होना चाहिये .

    उत्तर देंहटाएं
  2. क्या यह लिंक विवेक रस्तोगी जी के लेख तक ले जाएगा ? वे आज पोर्न चिंतन में मस्त हैं !

    उत्तर देंहटाएं
  3. "कई विद्वानों के अनर्गल प्रलाप की वजह से हिन्दी ब्लोगिंग से मोहभंग सा हुआ है."
    खेद जनक लिखा है आपने ...अगर तुम्हारे जैसे नवजवान हार मान जायेगे तो हम क्या करें यह और बताते जाओ ??

    उत्तर देंहटाएं
  4. " Dipak Mashal " se to Blog-Jagat Roushan hai,

    fir moh bhanggg kaisa, janaab...........

    laghu katha baut badiya likhi hai aapne

    उत्तर देंहटाएं
  5. मैं जब भी "हिन्दी सेवा" सरीखे शब्द सुनता-पढ़ता हूं तो, मैं तो डर जाता हूं... मुझे इसी से मिलते जुलते शब्द "देश सेवा" से जुड़े लोगों के दुर्स्वप्न आने लगते हैं (निश्चय ही मैं आपकी बात नहीं कर रहा हूं)

    उत्तर देंहटाएं
  6. ये सब आधुनिक नेताओं की करामात है काजल भाई जो सेवा के मायने ही बादल गए.. :) और फिर हम लोगों ने ही उन्हें इस तरह की सेवा का आदी बना दिया ना..
    श्री सतीश सर, श्री अली सा जल्द ही आपके सानिध्य में बैठ कर किस्से सुनाये जायेंगे... वैसे ऐसा कोई गंभीर मतलब ना निकाला जाए. अनर्गल प्रलाप के मायने कोई इतने बुरे नहीं होते सरकार और रण तो फिर भी नहीं छोड़ा, गति जरूर धीमी हुई है. चोट लगती है तो कुछ पल को दर्द की वजह से मन तो भटक ही जाता है ना. :)

    उत्तर देंहटाएं
  7. अरे ये सब तो चलता ही रहता है ...अपना काम करे चलो बस.

    उत्तर देंहटाएं
  8. दीपक जी, आपकी रचनायें अपने आप में अद्वितीय होती हैं इसलिए इस क्रम को जारी रखा जाए - और हमें तो पोर्न वाली कहानी भी बढ़िया लगी :)

    उत्तर देंहटाएं
  9. दीपक जी,
    उम्मीद करता हूँ आप अपना काम जारी रखेँगे. कुछ चीजोँ को इग्नोर करना बहुत जरुरी होता है...we should always focus on our best work who's still to just came out beside picking up stone thrown by some others

    उत्तर देंहटाएं
  10. क्या दीपक, एक बार तो लगा कि ब्लॉग हैक हो गया है हमारे दीपक का, फ़िर हा हा हा।
    अच्छी लगी पोर्न-साईट।

    उत्तर देंहटाएं

LinkWithin

Related Posts Plugin for WordPress, Blogger...